Home| Health |Fashion & Lifestyle |Subh Vichar |Shayari |Jokes |Astrology |News |Sports |Technology |Entertainment |Religion-Dharam | Health Tips | God Gallery | Cine Gallery | Nature Gallery | Beauty Styles | Fun Gallery |
Top Voted |  Top Viewed | 
Breaking News  
Business News  
Personal Finance  

TODAY'S POLL
  We should drink water with food?  
     
  Yes  
  No  
  Cant Say  
     
   
     

  NEWSLETTER  
 
Sign up our free newsletter.
 
     
0
Vote
Posted by arpit on June 03, 2017
Category : News | Tags : superstitions | Views : 35

नई दिल्ली। अंधविश्वास के चलते देश की राजधानी में एक महिला को उसके पति ने तीन महीने तक कमरे में बंद रखा। पति को शक है कि महिला पर भूत-प्रेत का साया है। शनिवार दोपहर महिला के परिजनों ने पुलिस की मदद से उसे बाहर निकाला। महिला को दयनीय हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जैतपुर थाना क्षेत्र के मीठापुर के एफ ब्लाक में दीपक अपनी पत्नी कविता, तीन बच्चों व परिवार के अन्य सदस्यों के साथ रहता है। 1999 में दीपक व कविता की शादी हुई थी। मकान के भूतल पर दीपक जनरल स्टोर चलाता है। पहली मंजिल पर तीन कमरे बने हैं। सबसे पीछे वाले कमरे में कविता नजरबंद पाई गई। इस कमरे में बाहर से डिजिटल लॉक लगा हुआ था। कविता के माता-पिता खानपुर व मामा सोहनलाल कोटला मुबारकपुर में रहते हैं। सोहनलाल के मुताबिक, शनिवार को वह कोटला के प्रधान को लेकर दोपहर करीब तीन बजे दीपक के घर पहुंचे। वहां उन्हें कविता से मिलने से रोक दिया गया। इस पर पुलिस की मदद से कविता का कमरा खोला गया। कविता की हालत बेहद दयनीय मिली। उसके बाल खुले हुए थे। मुंह से झाग निकल रहा था। वह बोल भी नहीं पा रही थी। दीपक का कहना है कि कविता कमरे से बाहर निकल कर इधर-उधर भागने लगती थी। शोर मचाती थी और गिर जाती थी। सुरक्षा कारणों से वह कविता को कमरे में बंद रखता था। पुलिस का कहना है कि महिला क्षय रोग से पीड़ित है।

 




Copyright 2016 sharecoollinks.in        |