Home| Health |Fashion & Lifestyle |Subh Vichar |Shayari |Jokes |Astrology |News |Sports |Technology |Entertainment |Religion-Dharam | Health Tips | God Gallery | Cine Gallery | Nature Gallery | Beauty Styles | Fun Gallery |
Top Voted |  Top Viewed | 
Astrology  
Remedies (उपाय)  
Numerology  
Palmistry  
Vastu  

TODAY'S POLL
  We should drink water with food?  
     
  Yes  
  No  
  Cant Say  
     
   
     

  NEWSLETTER  
 
Sign up our free newsletter.
 
     
Posted by arpit on August 03, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 938

Posted by arpit on August 03, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 91

शास्त्रों में अलग-अलग कार्यों के लिए अलग-अलग संख्याओं में मंत्र के जप का विधान है। इसमें किस कार्य के लिए कितनी संख्या में जप करना चाहिए इसका उल्लेख किया गया है।



* भय से छुटकारा पाने के लिए 1100 मंत्र का जप किया जाता है।

* रोगों से मुक्ति के लिए 11000 मंत्रों का जप किया जाता है।
read more

Posted by arpit on August 02, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 89

घर के मुख्य द्वार पर शुभ चिह्न अंकित करना चाहिए, इससे सुख-समृद्धि बनी रहती ऐसा हमारे शास्त्रों में वर्णन है। इसके अलावा वास्तु में कई शुभ चिह्न बताए गए हैं जो घर को सभी परेशानियों को दूर रखने में हमारी मदद करते हैं।
read more

Posted by arpit on July 29, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 103

1. महाकाल, 2. तारा, 3. भुवनेश, 4. षोडश, 5. भैरव, 6. छिन्नमस्तक गिरिजा, 7. धूम्रवान, 8. बगलामुखी, 9. मातंग और 10. कमल नामक अवतार हैं। दसों अवतार तंत्रशास्त्र से संबंधित हैं। read more

Posted by arpit on July 28, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 1039

शिवजी की को अर्पित किया जाने वाला बेलपत्र, सिर्फ पूजा मात्र का ही एक साधन नहीं है, बल्कि आपके स्वास्थ्य के लिए भी यह बेहद फायदेमंद है। क्या आप जानते हैं, बेलपत्र के यह 5 स्वास्थ्य लाभ? अगर नहीं जानते तो आपको जरूर जानना चाहिए... read more

Posted by arpit on July 27, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 912

धरती पर प्रलय आने की चर्चा सदियों से चली आ रही है। इंसान को इस ग्रह पर रहते हुए 2.8 मिलियन साल हो चुके हैं। अन्य विलुप्त हो चुकी प्रजातियों की तरह इंसान के भी खत्म हो जाने का read more

Posted by arpit on July 26, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 266

चलिए आज आपको रत्नो मे एक पुखराज के बारे मे बताते है क्या खासियत है इसकी और क्यू इसे पहना जाता है मारे जीवन में कभी ना कभी कठिनाई आती ही है, उस बुरे दौर से बचने के लिए उपाय किए जाते है।

हम किसी ज्योतिषी का सहारा लेकर उसके बताए रत्न को धारण करते हैं। ताकि हम पर आई मुसीबत काफी हद तक कम रहे या अच्छा फल मिले बस इसलिए ही रत्न धारण करते हैं। यह रत्न सोचने-समझने की शक्ति को बढ़ाता है। इसके पहनने से बुरे विचार दूर होते हैं। अन्याय के प्रति लड़ने की ताकत बढ़ती है।
read more

Posted by arpit on July 26, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 891

जब अधिक कर्ज के कारण आर्थिक परेशानियां प्रतिदिन दुखी करने लगे। बच्चे आपकी बात न मानें ऐसे समय में गणेश का पूजन और गणेश कुबेर मंत्र आपकी सहायता कर सकता है। श्रीगणेश का एक मंत्र दिलाएगा कर्ज और संकट से छुटकारा!


read more

Posted by arpit on July 26, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 372

हत्था जोड़ी प्रकृति की अनमोल देनों में से एक हैं, हत्था जोड़ी अति दुर्लभ वस्तु मानी जाति हैं क्योकी यह आसानी से प्राप्त नहीं होती, हत्था जोड़ी एक विरुपा नामक पौधे की किसी-किसी जड़ में पायी जाता हैं,सभी जड़ों में नहीं पायी जाती। हत्थाजोड़ी का आकार हमारे दोनों हाथों के समान होता हैं,हत्थाजोड़ी में दोनो हाथ नींचे से आपस में जुडे़ हुवे प्रतित हैं कई-कई हत्थाजोड़ी का उपरी भाग भी आपसे में जुड़ा होता है, और उसके उपरी भाग में पांच-पांच अंगुलीयों के समान आकृतिया दिखाई देती हैं इस कारण इसे हत्थाजोड़ी के नाम से जाना जाता हैं। read more

Posted by arpit on July 25, 2016
Category : Astrology | Tags :  | Views : 87

फेंगशुई का उपयोग आज कल बहुत तेजी से बढ़ गया है. खासकर लोग इनको अपनी समस्यायों के समाधान के लिए ज्यादा प्रयोग करते हैं, फेंगशुई का प्रयोग हम एकाग्रता बढ़ाने के लिए भी कर सकते हैं-

अपनी स्टडी रूम में हरे पर्दों का प्रयोग करें., स्टडी रूम या घर में कहीं टूटे खिलौने हैं तो उन्हे तुरंत हटा दें, क्योंकि इनसे उत्पन्न नकारात्मक ऊर्जा नाक, कान, गला व आंख के इंफेक्शन का कारण होती है. स्टडी रूम व घर में कहीं भी बंद घडिय़ां नहीं होनी चाहिए, क्योंकि ये नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करती हैं और अगर किसी कारण से आप इन्हें फेंकना या बेचना नहीं चाह रहे हैं तो इन्हे ठीक करा लें. read more

FirstPrevious12345678910NextLast
Copyright 2016 sharecoollinks.in        |